Pregnancy Test At Home - गर्भवस्था का परीक्षण घर पर ही आसानी से कर सकते है

Pregnancy Test At Home / गर्भवस्था का परीक्षण घर पर ही आसानी से कर सकते है

गर्भवती होने का एहसास महिला के लिए के एक अलग सा रोमांचित भरा होता है। गर्भवती होने का हल्का सा भी अंदेशा महिलाओ उत्सुक कर देता है। यह जानने के लिए की वो असल में गर्भवती हे, या नही। परन्तु गर्भवती होने के साथ ही आप चिकित्सक के पास नही जा सकती। घर पर गर्भवस्था की जांच के लिए बाज़ार में कई प्रकार की गर्भवस्था की जांच किट मिलती है। जिसके प्रयोग कर के आप अपनी गर्भवस्था का परीक्षण कर सकते जिसके जांच से आप ये पुष्टि कर सकती है की आप गर्भवती है या नही। यदि इस जांच के बाद आपको ये पता चल जाता है की आप गर्भवती हे, तो भी आपको एक बार चिकित्सक के पास जाकर अन्य जांच ज़रूर करवा लीजिये। तो चलिए हम आपको बताते हे, कैसे आप घर बैठे गर्भवस्था का परीक्षण कर सकती है



How To Confirm Pregnancy

घर पर ही कैसे करे गर्भवस्था का परीक्षण 


गर्भवस्था का परीक्षण करने के लिए सबसे पहले एक किट में यूरिन का सैंपल लिया जाता है। इस परीक्षण से मौजूद ह्यूमन कोरियनिक गोनाडोट्रोपिन (एचसीजी) का पता लगाया जाता है। यदि आपके यूरिन में एचसीजी हार्मोन पाया जाता हे, तो इसका मतलब ये है की आप गर्भवती  चुकी है। घर पर ही किया जाने वाले गर्भवती परीक्षण हमेशा सुबह में ही करना चाहिए। ऐसा करने से गलत परिणाम आने की संभावना कम हो जाती है। क्यूंकि सुबह-सुबह में यूरिन में अन्य तरल पदार्थ मौजूद नही होते है और सुबह में यूरिन एचसीजी हार्मोन का स्तर बढ़ा रहता है।

परीक्षण नकरात्मक (नेगेटिव) हो तो 

कई बार जल्दबाज़ी में ऐसा होता हे, की गर्भवस्था परीक्षण किट का प्रयोग करने के कारण परीक्षण नकरात्मक आ जाता है। ऐसे में आपको ज़्यादा घबराने की परेशान होने की ज़रूरत नही है। आप दोबारा से करीब 72 घंटे बाद फिर से परीक्षण कीजिये। समय से पहले परीक्षण किट का प्रयोग करने की वजह से भी जांच का परिणाम नकरात्मक आ जाता है। गर्भवती होने के कम से कम दस दिन बाद गर्भवस्था किट का प्रयोग किया जाये तो परिणाम सही होते है। कभी-कभी गर्भवस्था जांच किट भी सही परिणाम नही दे पाती है। जिसके कारण सही परिणाम नही निकल पाते है। 

Also Read : गर्भधारण के समय ये आहार ज़रूर ले 

परीक्षण सकरात्मक (पॉज़िटिव) हो तो 

यदि महिला दुवारा घर पर ही गर्भवस्था जांच किट के प्रयोग करने के बाद के बाद परिणाम सकरात्मक आता है, तो उसकी करने के लिए एक बार चिकत्सक के पास जांच के लिए अवश्य जाए और अपनी जांच कराये। गर्भवस्था के सामान्य लक्षण जैसे उलटी आना, पीठ में दर्द होना और महावारी में देरी होना एवम किट के ज़रिये एचसीजी हार्मोन ढूंढ लिए जाने के बाद परिणाम पक्ष में आता है। 





परीक्षण के लाभ 

यदि किसी महिला को ज़रा भी ये एहसास हो जाये की वह गर्भवती हे, तो वह इस बात की पुष्टि होने तक बहुत ही उत्सुक रहती है। ऐसे में गर्भवस्था जांच किट के ज़रिये आप इस मुश्किल को सरलता से हल कर सकते है। इस किट के प्रयोग से ही आप घर पर आसानी से गर्भवस्था की पुष्टि कर सकती है। इस किट के प्रयोग करने से आप चिकत्सक के पास तक जाने के लिए जो भागदौड़ आप करती है उससे भी बचा जा सकता है। 


यदि आपको मासिक धर्म नही आया है और उसके बावजूद भी जांच में नकरात्मक परिणाम आते हे, तो भी आप तुरंत चिकत्सक की सलाह अवश्य ले। उसकी सलाह पर अन्य अवश्य जांच कराये।


Thanks for Visiting  Pregnancy Test At Home Article if you like this article then please leave comment bellow.


loading...